भागलपुर: मसदी गांव मे जमीन मालिक का आतंक कई लोगों से जमीन के नाम पर लिये पैसे महिलाओं के साथ कि छेडख़ानी,

भागलपुर:  जिले के सुल्तानगंज क्षेत्र अन्तर्गत  मसदी गांव में जमीन मालिक का आतंक होने का मामला प्रकाश में आया है ।वहीं इस मामले में पीड़िता प्रीति देवी ने बताया कि जमीन मालिक देवानंद झा को 10 कट्ठा जमीन के लिए 7 लाख रुपये बारी बारी से हम लोगों ने दिये थे। केवाला करने के लिए जमीन मालिकों को कहने पर जमीन मालिक देवानंद झा रजिस्ट्री नहीं कर रहे थे। उसी को लेकर देवानंद झा जमीन मालिक के घर पर गए तो देवानंद झा, सुभाष कुमार, निवास कुमार दोनों के पिता कृष्णानंद यादव ने मिलकर हमारे साथ बुरी नियत से जबरदस्ती करते हुए रूम के अंदर खींच कर ले कर चला गया और इस दौरान मेरा पूरा साड़ी और ब्लाउज भी फट गया मैं काफी चीखी चिल्लाई तो ग्रामीण दौड़ते हुए वहां पहुंचे तो मेरी इज्जत बच सकी ।इस बाबत में पीड़िता ने सुल्तानगंज थाने में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। वहीं दूसरी ओर मसदी गांव निवासी सुधीर यादव ने सुल्तानगंज थाने में आवेदन देते हुए कहा है कि मंगलवार की सुबह लगभग 9:00 बजे अपने घर से निकलकर बैंक जा रहा था तभी रास्ते में मसदी गांव निवासी देवानंद झा उनके दो सहयोगी मुंह में गममोची लगाएं चाकू लेकर खड़ा हो गया और कहा कि जो भी पैसा है निकाल कर हमें दे दो नहीं तो तुम्हें जान से मार देंगे इस दौरान मुझसे 15 हजार और एक सोने का चैन छीन कर भाग गया मैं किसी तरह अपना जान बचाकर थाना पहुंचकर देवानंद झा की करतूत सुल्तानगंज थाने को अवगत कराया ।वही मसदी गांव निवासी मनीष कुमार यादव ने भी सुल्तानगंज थाने में आवेदन देकर देवानंद झा पर आरोप लगाया है कि जमीन लेने के एवज में दो लाख 25 हजार रुपया मैंने दिया लेकिन कई माह से कहा की जमीन की रजिस्ट्री कर दें लेकिन वह दबंगई दिखाते हुए कहा कि जहां जाना है जाओ जिसको जो कहना कहो मेरा कुछ नहीं होने वाला है। और ना ही मैं तुमको जमीन रजिस्ट्री करूंगा न.ही पैसा वापस करुगा।इस मामले को लेकर मनीष यादव ने भी सुल्तानगंज थाने में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। वही मसदी गांव निवासी संजय यादव ने भी देवानंद झा के खिलाफ सुल्तानगंज थाने में आवेदन देकर कहा है कि जमीन के एवज में मझसे से भी कई माह पूर्व पैसे ले लिए हैं लेकिन अभी तक जमीन रजिस्ट्री नहीं कर रहा है।वहीं पुलिस पुरे मामले को देखते हुए तहकीकात मे लग गई हैं।

भागलपुर से बालमुकुंद कुमार की रिपोर्ट

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129