SUPAUL: लंबे समय से शराब तस्करी धंधे से जुड़ा हुआ था आरोपी। इधर, घटना के बाद आक्रोशि ग्रामीणों ने रोड जाम करते हुए पुलिस पर गंभीर आरोप लगाया 

SUPAUL:जिले केबलुआ थाना क्षेत्र अंतर्गत बिशनपुर शिवराम वार्ड 06में शनिवार की देर शाम दरवाजे के आगे शराबियों का बाइक का जमावड़ा देखकर उसे हटाने के लिए कहना एक अधेड़ ब्यक्ति के लिए महंगा पड़ गया।हलाकि उनके कहने पर शराबियों ने तो गाड़ी हटा ली लेकिन शराब माफियाओं ने उसे इतनी बुरी तरह पीटा की अस्पताल ले जाते ही उन्होंने दम तोड़ दिया। जिसके बाद घटना से आक्रोशित परिजनों ने मृतक के शव को एसएच 91 पर रखकर आरोपी पक्ष के गिरफ्तारी की मांग करने लगे। सड़क जाम की सूचना पर पहुंचे बसंतपुर आरडीओ कुमार मनीष भरद्वाज व वीरपुर थानाध्यक्ष दीनानाथ मंडल ने मौके पर पहुंचकर परिजनों को समझाकर करीब दो घंटे के बाद जाम को समाप्त करवाया इधर, मामले को लेकर मृतक के पुत्र ने थाने में आवेदन देकर पांच लोगो को आरोपी बनाया है। वहीं बलुआ पुलिस ने त्वरीत कार्रवाई करते हुए दौ आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है और अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।थाने में दिये आवेदन में मृतक के पुत्र बिशनपुर शिवराम वार्ड 06 निवासी अजय कुमार साह ने बताया कि बीते देर शाम मेरे पिता ज्योतिष प्रसाद साह बलुआ बाजार से सब्जी बेचकर घर लौटे तो देखा कि दरवाजे पर गाड़ियों का जमावड़ा लगा हुआ है।घर जाने का रास्ता अवरुद्ध है।जिसके बाद वो गाड़ी हटाने को लेकर आवाज लगाने लगा।बताया कि आवाज देने पर बाइक वाले अपनी अपनी बाइक लेकर निकल गए।बताया कि अक्सर शराबियों के द्वारा उनके दरवाजे के सामने वाईक खड़ी कर उनके घर के सामने ही अरुण साह के यहाँ शराब पीने चला जाता है।बताया कि उसके कुछ देर बाद शराब बेच रहे आरोपी पक्ष अरुण कुमार साह ओर सुनील कुमार साह मौके पर पहुंचकर उनके पिताजी के साथ गाली गलौज करने लगे।जिसका विरोध करने पर उक्त लोगों ने मेरे 60 वर्षीय पिता को बहुत ही बुरी तरह से मारपीट किया जिससे वो अचेत होकर वही गिर पड़े।बताया कि जब वो अपने पिताजी का बीच बचाव करने पहुँचे तो उक्त लोग उनके साथ भी मारपीट करने लगे।बताया कि बाद हो हल्ला सुनकर आसपास के ग्रामीण भी जमा हो गए।ग्रामीणों को आता देखकर उक्त सभी लोग भाग गया।बताया कि जाते जाते धमकी दिया कि जिसके पास जाना है जाओ कोई मेरा कुछ नही कर सकता है।जिसके बाद आनन फानन में ग्रामीणों के सहयोग से उसे वीरपुर हॉस्पिटल ले जाया गया जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।बताया जा रहा है आरोपी पक्ष पिछले कई वर्षों से शराब की अवैध कारोबार करता आ रहा है।जिसको लकेर आरोपी पर बलुआ थाना में मामला भी दर्ज है।आरोपी अरुण साह, सुनील साह शराब मामले में कई बार जेल भी जा चुका है।बताया कि कारोबारियों का घर उनके घर के सामने होने के कारण अयदिन मृतक के दरवाजे पर लोग अपनी वाहन खड़ा कर शराब खरीदकर ले जाते थे। यही नहीं लोग खुलेआम उसके घर के आसपास शराब भी पिया करते है।इस बीच कुछ दिन पूर्व ही सुनील कुमार साह,अरुण कुमार साह जेल से छूट कर आया था।हलाकि,बलुआ पुलिस शव को कब्जे में लकेर पोस्टमार्टम में भेजकर जांच में जुट गई है।इधर, पोस्टमार्टम से शव घर आते ही मृतक के परिजनों के चीख पुकार से माहौल गमगीन हो गया। साथ ही मृतक के पत्नी और मनोज साह ,अरुण साह का रो रौ रोकर बुरा हाल था।लंबे समय से शराब तस्करी धंधे से जुड़ा हुआ था आरोपी। इधर, घटना के बाद ग्रामीणों ने आक्रोशित होकर स्थानीय पुलिस को आड़े हाथ लिया और पुलिस कि कार्यशैली पर जमकर सवाल उठाया। ग्रामीणों का कहना था कि आरोपी पक्ष लंबे समय से शराब का कारोबारी करता था। जिसके संबंध में पुलिस को कई बार शिकायत किया गया था।इसके बावजूद पुलिस अनदेखी करती रही। जिसके कारण आरोपियों का मन सातंवे आसमान पर है। यही कारण है कि कानूनी कार्रवाई के खोफ को दरकिनार कर आरोपियों ने घटना को अंजाम दिया है।सूत्रों की माने तो इन दिनों बिशनपुर चौक सहित बिशनपुर गांव में कुछ लोग शराब व गांजा के तस्करी से जुड़े हुए है।वही तस्करों के द्वारा कमाई का एक मोटा हिस्सा स्थानीय थाना को भी दी जाती है।जिस कारण बिशनपुर चौक व गाँव में कुछ लोग कानून को ठेंगा दिखाते हुए खुलेआम शराब व गांजा का अवैध कारोबार करते है। इधर घटना को लेकर बीरपुर एसडीपीओ पंकज मिश्रा ने बताया कि बलुआ थाना से पूछ लीजिये सब बता देगा।वही बलुआ थाना अध्यक्ष मनोज प्रसाद सिंह ने बताया कि मामले में एफआईआर दर्ज कर घटना में संलिप्त दौ महिला की गिरफ्तारी हुई है।वही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।बांकी आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

रिपोर्ट – सोनू आलम बलुआ बाजार।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129