कैमूर में बीएमपी के जवान की मौत ,अचानक हुुए थे सेहत खराब

कैमूर: जिले के रामगढ़ थाना क्षेत्र के डरहक गांव के एक हवलदार की बुधवार को अचानक तबीयत खराब होने के कारण एक बीएमपी हवलदार की मौत हो गई इलाज के लिए अनुमंडल अस्पताल मोहनिया लाने के दौरान उन्होंने रास्ते में दम तोड़ दिया घटना को लेकर लोगों के बीच अफरातफरी का आलम रहामृतक रामगढ़ थाना क्षेत्र के डरहक गांव निवासी रणविजय सिंह बताए गए हैं बीएमपी में हवलदार थे वर्तमान में बीएमपी 14 में कैमूर जिला में हवलदार के पद पर पदस्थापित थे इधर बीएमपी सिपाही प्रमोद कुमार ने बताया कि ड्यूटी जाने के दौरान उनकी तबीयत अचानक खराब हो गई जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए अनुमंडल अस्पताल ले जा रहे थे तभी बीच रास्ते में ही अपना दम तोड़ दिया अपनी संतुष्टि को लेकर उन्हें अस्पताल ले आए जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया इसके पश्चात परिजनों को सूचना दे दी गई सूचना मिलते ही परिजन अस्पताल पहुंच गए।अग्निवीर स्कीम के बाद विरोध प्रदर्शन पर कैमूर आई थी बीएमपी 14 की बटालियन ,जानकारी के मुताबिक अग्नीपथ स्कीम के बाद जिस तरीके से बिहार के कोने कोने में विरोध प्रदर्शन हुआ आगजनी की घटनाएं घटित हुई तो सरकार ने बिगड़ते लॉ एंड ऑर्डर को देखते हुए बीएमपी के जवानों की तैनाती कर दी। ऐसे में बीएमपी 14 (A) बटालियन की टीम लॉ एंड ऑर्डर को बनाए रखनें के लिए कैमूर में आई हुई थी। जवानों का ठहराव मोहनियाँ स्थित महाराणा प्रताप कॉलेज में किया गया था। सभी जवानों की ड्यूटी संवेदनशील जगहों पर लगी हुई थी। इधर बुधवार को बीएमपी 14 के हवलदार रणविजय सिंह महाराणा प्रताप कॉलेज से वर्दी पहन कर ड्यूटी के लिए चांदनी चौक के लिए निकल पड़े इसी बीच रास्ते में ही उनकी तबीयत खराब होने लगीं। जवानों की नजर पड़ी तो उन्हें आनन-फानन में इलाज के लिए अनुमंडल अस्पताल लें जाया गया यहां तैनात डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। बीएमपी की बटालियन मोहनियाँ में 18 जून को अग्निवीर स्कीम के बाद हुए विरोध प्रदर्शन को लेकर पटना से मोहनियाँ आई थी।सुबह में साथियों के साथ नहा खाना खा कर ड्यूटी के लिए जैसें ही साथियों के साथ मोहनिया थाने की गाड़ी पर बैठे चांदनी चौक पर ड्यूटी करने के लिए वैसे ही गाड़ी से नीचे गिर गए साथियों द्वारा इलाज के लिए मोहनियाँ के अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। मोहनिया थाने की पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भभुआ भेज दिया। इस संबंध में जानकारी देते हुए मोहनिया थाना अध्यक्ष ललन कुमार ने बताया कि जवान की मौत हार्ड अटैक होने की आशंका जताई जा रही है अस्पताल के बेड पर पड़े मृतक जवान को देख परिजनों के सभी सदस्यों का रो रो कर बुरा हाल हो गया

कैमूर से विवेक कुमार सिन्हा की रिपोर्ट

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Check Also
Close
Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129