त्रिवेणीगंज में नमाज अदा करने जुटे मुस्लिम समुदाय के लोग।शांति ढंग से मनाया गया बकरीद पर्व।

desk ,सुपौल: जिले की त्रिवेणीगंज में रविवार को ईद-उल-अजहा यानी बकरीद का पर्व परंपरागत तरीके से मनाया गया। त्याग और समर्पण के प्रतीक स्वरूप कुर्बानियां दी गई। बकरीद के नमाज पढ़कर अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने अमन शांति एवं खुशहाली की दुआएं मांगी।

सुबह में नमाज अदा करने के लिए जुटी रही भीड़

वही अनुमंडल क्षेत्र विभिन्न इलाके में मस्जिद और ईदगाहों में बकरीद की नमाज अकीदत के साथ अदा की गई।अनुमंडल क्षेत्र में शांति पुर्ण तरीके से बकरीद की नमाज़ को संपन्न कराने को लेकर एसडीओ एसजेड हसन व डीएसपी गनपती ठाकुर सहित अनुमंडल क्षेत्र के सभी थाने में जिम्मेदार हालात पर नजर रखे रहें। अलावे एसडीओ व डीएसपी खुद सुबह से ही लगातार क्षेत्र में भ्रमन करते दिखे गये. अनुमंडल क्षेत्र में सभी स्थानों पर नमाज संपन्न के बाद अंतिम नमाज 9 बजे त्रिवेणीगंज ईदगाह में अनुमंडल पदाधिकारी एस जेड हसन शरीक हुए और ईदुल अज़हा की नमाज़ अदा किए. नमाज के बाद अमन शांति के लिए अल्लाह ताला से दुआएं मांगी और एक दूसरे को गले लगाकर बधाई दिया। पर्व को लेकर सुबह से ही लोगों में उत्साह देखा गया। नए कपड़े पहनकर लोग विभिन्न ईदगाह और मस्जिदों में जमा होने लगे थे।मौके पर मुस्लिम धर्मगुरु ईदगाह में नमाज के दौरान संबोधित करते हुए कहा कि ईद उल अजहा बलिदान और संयम का दिन है।उन्होंने कहा कि कुर्बानी आत्मा को शुद्ध करने का एक उत्तम साधन है। उन्होंने कहा कि कुर्बानी में इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि दिखावे के लिए न हो। उन्होंने कहा कि हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम ने अल्लाह के हुक्म पर अपने बेटे हजरत इस्माइल अलेही सलाम को कुर्बानी देने के लिए तैयार हो गए थे। अल्लाह को यह अदा काफी पसंद आई। इसके बाद सभी लोगों ने त्याग एवं समर्पण के प्रतीक स्वरूप के अनुसार बकरे की कुर्बानी दी गई। उसके बाद देर शाम तक कुर्बानियों का सिलसिला चलता रहा। सभी धर्मों के लोगों ने इस्लाम धर्मावलंबियों से गले मिलकर बधाई दी। मौके पर लोगों ने कहा कि ईद उल अजहा एकता का संदेश देता है एकता से बड़ी कोई दौलत नहीं है। हिन्दु  समुदाय के लोग सहित राजनीतिक दलों के लोगों ने भी सक्रियता दिखाई और मुस्लिम बस्तियों में जाकर एक दूसरे को बकरीद की बधाई दी। इस दौरान विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए अनुमंडल प्रशासन एसजेड हसन ने विशेष इंतजाम किए थे। क्षेत्र के सभी ईदगाहों में बकरीद को लेकर एसडीओ द्वारा नमाज के दौरान दंडाधिकारी तथा पुलिस के जवान तैनात किए गए थे। सभी जगह शांतिपूर्ण रहा।

56 जगहों पर पुलिस और दंडाधिकारी तैनात रहे।

अनुमंडल क्षेत्र में 56 जगहों पर पुलिस बल और डंडाधिकरी तैनात रहे एसडीओ एस जेड हसन ने कहा कि अनुमंडल क्षेत्र में शांतिपूर्ण ढंग से बकरीद की नमाज को संपन्न कराया गया। अनुमंडल के सभी थानों में जिम्मेदार हालात पर नजर रखे रहे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129