रोहिणी नहीं, जान कहिए… पिता की जिंदगी के लिए लिया ऐसा फैसला, कर्जदार होगा लालू परिवार

Desk पटना : किसी ने ठीक ही कहा है ‘मां की परछाई और पिता का ख्वाब हो तुम… कांटों के बीच खिलता हुआ गुलाब हो तुम… तुम सिर्फ बेटी नहीं अपने माता-पिता की जान हो तुम’। एक बेटी का रिश्ता पिता के लिए बहुत खास होता है। कहा जाता है कि जैसे एक मां की प्यार एक बेटा होता है, ठीक उसी तरह एक पिता की प्यारी बेटी होती है। कई पिता ऐसे में भी होते हैं, जो अपनी बेटी की हर ख्वाइश पूरी करते हैं। उसे किसी चीज की कमी नहीं होने देते हैं। मौका मिलते ही बेटियां भी बता देती हैं, समाज को संदेश दे ही देती हैं कि वह किसी से कम नहीं है।कुछ ऐसा ही कर दिखाया है आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य ने। रोहिणी ने किडनी की बीमारियों से पीड़ित अपने पिता लालू यादव की जिंदगी बचाने के लिए बड़ा फैसला लिया है, जो देश की सभी बेटियों के लिए मिसाल कायम कर इतिहास रच दी है। जिसे सुनकर आप भी कहेंगे बेटी हो तो रोहिणी जैसी। दरअसल, आरजेडी प्रमुख लालू यादव पिछलो कई वर्षों से कई बीमारियों से पीड़ित हैं। उनमें से एक किडनी से संबंधित भी है। लालू यादव पटना, दिल्ली के बाद अब सिंगापुर से इलाज करवा रहे हैं। आरजेडी सुप्रीमो 12 अक्टूबर को किडनी ट्रांसप्लांट के सिलसिले में सिंगापुर गए थे। लालू यादव के साथ उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बड़ी बेटी मीसा भारती भी सिंगापुर गई थीं। लालू के सिंगापुर पहुंचने के दो दिन बाद ही डॉक्टरों ने लालू की जांच की थी और उन्हें किडनी ट्रांसप्लांट की स्वीकृति दे दी थी। इस दौरान लालू की दूसरी बेटी रोहिणी आचार्य की भी जांच हुई थी। इसके बाद लालू प्रसाद वापस दिल्ली लौट गए थे।

सेंटर फॉर किडनी डिजीज में लालू का इलाज

दरअसल, किडनी अस्पताल के रूप में विख्यात सेंटर फॉर किडनी डिजीज से आरजेडी प्रमुख लालू यादव का इलाज चल रहा था। उसी अस्पताल में बीजेपी नेता और राज्यसभा के पूर्व सदस्य आरके सिन्हा का भी इलाज हुआ है। आरके सिन्हा ने पिछले साल लालू को सिंगापुर में इलाज का सुझाव दिया था। सिंगापुर में डॉक्टरों ने लालू की जांच की। इस दौरान उनकी दूसरी बेटी रोहिणी की भी जांच हुई। जांच के बाद डाक्टरों ने किडनी ट्रांसप्लांट की स्वीकृति दे दी।

रोहिणी की पेशकश को लालू ने ठुकरा दिया था

खबरों की मानें तो लालू यादव को किडनी डोनेट करने के लिए दो दर्जन से अधिक आरजेडी कार्यकर्ता और नेता आगे आए थे। लेकिन लालू यादव और उनके परिवार के लोगों ने सबको मना कर दिया था। 56 से अधिक तरह की बीमारियों से पीड़ित लालू परिवार को जीवन दान देने के लिए उनकी बेटी रोहिणी आचार्य सामने आईं। बताया जा रहा है कि आरजेडी प्रमुख ने रोहिणी की पेशकश को भी ठुकरा दिया था। काफी मान मनौव्वल के बाद लालू यादव तैयार हुए।

एक बेटी सांसद, तो दोनों बेटा बिहार सरकार में मंत्री

आरजेडी प्रमुख लालू यादव के कुल 9 संतान हैं, जिसमें 2 पुत्र तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव। तेजस्वी यादव बिहार के उप मुख्यमंत्री हैं और तेज प्रताप यादव मंत्री हैं। वहीं, लालू यादव की 7 पुत्रियां हैं। मीसा भारती, रोहिणी आचार्य, चंदा यादव, रागिनी यादव, हेमा यादव, अनुष्का यादव और राजलक्ष्मी यादव। मीसा भारती राज्यसभा सांसद हैं और दिल्ली में रहती हैं। इससे पहले 25 नवंबर की शाम लालू यादव सिंगापुर के लिए रवाना हो गए थे. उनके साथ पत्नी राबड़ी देवी, बेटी मीसा भारती और उनके पति शैलेष कुमार भी गए थे. पिता को रवाना करने के बाद बिहार डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा था- ‘हम लोगों को पूरा विश्वास है कि ऑपरेशन सफल होगा. बहुत लोगों की शुभकामनाएं लालूजी के साथ हैं. किडनी समेत कई बीमारियों से पीड़ित हैं. सिंगापुर में रहने वाली उनकी दूसरी बेटी रोहिणी आचार्य ने उन्हें अपनी किडनी दे दी. रिपोर्ट्स के मुताबिक, अक्टूबर में सिंगापुर गए लालू यादव को डॉक्टर्स ने किडनी ट्रांसप्लांट कराने की सलाह दी थी, जिसके बाद उनकी बेटी रोहिणी ने अपने पिता को अपनी किडनी दान करने की बात कही थी. आज 5 दिसंबर को लालू यादव का सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट का सफल ऑपरेशन हो गया है. उन्हें ऑपरेशन के बाद आईसीयू में शिफ्ट किया गया है. ये जानकारी लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर दी. लालू यादव को उनकी बेटी रोहिणी आचार्य ने किडनी डोनेट की है. रोहिणी आचार्य और लालू यादव दोनों स्वस्थ हैं. रोहिणी अपने भविष्य की परवाह किए बगैर और साहस का परिचय देते हुए बेटी ने अपनी किडनी दान कर पिता की जान बचाई है। बेटी की जिद के आगे अंतत: घरवालों को झुकना ही पड़ा। आज उस बेटी पर सभी को नाज है

रोहिणी ट्वीट कर लोगों से किया ये अपील

इसके कैप्शन में रोहिणी ने लिखा है कि ‘जिन्होंने लाखों-करोड़ों जनता को दी आवाज, उनके लिए दुआ करें सब मिलकर आज’मेरे लिए

माता-पिता भगवान हैं’

रोहिणी ने किडनी डोनेट से पले एक पोस्ट में लिखा था, ‘इस दुनिया में मुझे आवाज देने वाले पिता, जो मेरे लिए सब कुछ हैं, अगर मैं अपने जीवन का एक छोटा सा हिस्सा भी योगदान दे सकूं तो मैं बेहद भाग्यशाली महसूस करूंगी. माता और पिता इस धरती पर भगवान हैं और सभी उनकी सेवा करने का कर्तव्य निभाना चाहिए.’ उन्होंने आगे लिखा, ‘मेरे माता-पिता मेरे लिए भगवान हैं. मैं उनके लिए कुछ भी कर सकती हूं. आपकी शुभकामनाओं ने मुझे और मजबूत बनाया है. मैं आप सभी का दिल से आभार व्यक्त करती हूं. मुझे सभी से विशेष प्यार और सम्मान मिल रहा है. मैं भावुक हो गई हूं .मैं आप सभी को दिल से धन्यवाद कहना चाहती हूं.’वहीं लालू यादव एवं रोहिणी के ऑपरेशन सफलतापूर्वक को लेकर आरजेडी विधायक युसूफ सलाउद्दीन ने अपने निजी आवास पटना में सैकड़ों लोगों के साथ कुरान शरीफ तिलावत कर अल्लाह ताला से दुआएं मांगी वही युसूफ सलाउद्दीन ने कहा समस्त राष्ट्रीय जनता दल परिवार एवं बिहार के लोग इस महान राजनेता के साथ खड़े है .हम लोगों को अल्लाह ताला पर भरोसा है की ऑपरेशन सफल होगा एवं पूर्व की तरह फिर से हमें उनका आशीर्वाद प्राप्त होगा .उन्होंने रोहिणी को दिल से सैल्यूट किया है कहा इस तरह की बहन पर नाज है अल्लाह ताला इस बहन को हमेशा स्वस्थ रखें।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129