सुपौल में मुखिया पति के मौत के बाद जनप्रतिनिधियों में आक्रोश, कहां अभिलंब बर्खास्त किया जाए थाना प्रभारी को नहीं तो होगी उग्र आंदोलन

सुपौल : जिले के  त्रिवेणीगंज नगर परिषद वार्ड पार्षद प्रत्याशी रोहित कुमार मणि उर्फ अश्वनी यादव को 11 रात्रि मतदान के ठीक 1 दिन पहले अपराधियों ने गोली मारी थी। जिससे रोहित गंभीर रूप से जख्मी हो गए बेहतर इलाज के लिए बाहर रेफर कर दिया लेकिन गुरुवार को इलाज के क्रम में उनकी मौत हो गई. इसको लेकर शुक्रवार की रात्रि आक्रोशित जनप्रतिनिधियों ने एकचित्र होकर श्याम नगर के समीप एनएच पर टायर जलाकर थाना प्रभारी संदीप कुमार सिंह की अविलंब बर्खास्त करने एवं सभी अपराधियों की फांसी की सजा की मांग की है. उसके बाद आज फिर शनिवार को प्रखंड क्षेत्र के तमाम जनप्रतिनिधियों ने अनुमंडल कार्यालय पहुंचकर अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को ज्ञापन सौंपा है वहीं मुखिया संघ के अध्यक्ष राजेश यादव ने बताया वर्तमान मुखिया निधि यादव की सुरक्षा मुहैया कराया जाए एवं उनको पच्चीस लाख राशि की मुआवजा दिया जाए. इस घटना में शामिल सभी अपराधियों को फांसी की सजा दी जाए और त्रिवेणीगंज स्थानीय थाना प्रभारी संदीप कुमार सिंह को अविलंब बर्खास्त की जाए इनका चरित्र बहुत गंदा है वह अपराधियों से सांठगांठ रखता है इनके आने के बाद त्रिवेणीगंज में आए दिन अपराधों का ग्राफ बढ़ते जा रहा है.शराब कारोबारी में अधिक बृद्धि हो गई है .यह थाना प्रभारी शराब कारोबारियों से भी गठजोड़ है यह थाना प्रभारी संदीप कुमार सिंह को अभिलंब हटाया जाए. सभी मांगे सात दिनों की  अंदर पूरी नहीं हुआ तो उग्र आंदोलन होगा. इंजीनियर एलके निराला ने कहां त्रिवेणीगंज थाना अध्यक्ष एवं अपराधी एक ही जाति के आते हैं इसलिए वह थाना प्रभारी अपराधी को बचाते हैं उन्होंने कहा मुख्य अपराधियों स्थानीय थाना से दो सौ मीटर दूरी की आदर्श मोहल्ला की है और कुछ अपराधियों थाना से करीब एक किलोमीटर दूरी.गिरफ्तार अपराधियों में से राजकुमार सिंह उर्फ़ चिंटू सिंह पर त्रिवेणीगंज थाना में आधा दर्जन से अधिक यानी कुल 7 आपराधिक मामले दर्ज हैं। वहीं धीरज कुमार और रौशन पौद्दार पर त्रिवेणीगंज थाना में तीन-तीन अपराधिक मामले पहले दर्ज हैं। वही अपराधी हैं जिन्हें 23 नवंबर कोकलेक्शनकर्मी से एक लाख सैंतीस हज़ार रुपये और मोटरसाइकिल की लूट की घटना को अंजाम दिया था. उसी पैसा से वह लोग हथियार खरीदा था. क्षेत्र में आचार संहिता लागू था उसके बाद भी धड़ल्ले से हथियार लहराते थे. आखिर क्या कर रही थी पुलिस उन अपराधियों पर शिकंजा पहले से कश दिए होते तो आज यह दिन देखने को नहीं मिलता. थाना प्रभारी संदीप कुमार सिंह अपराधियों से गठजोड़ है इसलिए क्षेत्र में अधिक अपराधियों ने अपराध को घटना अंजाम देते हैं वही जिला परिषद सदस्य प्रवेश कुमार प्रवीण ने कहा थाना प्रभारी संदीप कुमार के गुंडा गर्दी से आमजनों से लेकर जनप्रतिनिधियों तक परेशान यह सिर्फ अपराधियों को संरक्षक देते हैं लोग न्याय के लिए दर-दर भटक रहे हैं लेकिन यह थाना प्रभारी को कोई मतलब नही है.इनकी कार्यो जांच किया जाए तो अधिकतर निर्दोष लोगों को फंसाए गए है अधिकतर बिना जांच के काउंटर केस हुआ है .इतना ही नहीं पैसा लेकर पीड़ित व्यक्ति पर भी यह थाना प्रभारी काउंटर केस करा देते हैं यह थाना प्रभारी अपराधियों को रोकने के शिवाय अपराधियों को मनोबल बढ़ाते हैं.जो अपराधी बीते 23 नवंबर को थाना क्षेत्र अंतर्गत मेढिया गांव के समी कलेक्शनकर्मी से एक लाख सैंतीस हज़ार रुपए एवं मोटरसाइकिल की लूट की घटना को अंजाम दिया. लेकिन पुलिस की जांच पैसेंजर ट्रेन से भी धीमी था कि उन लोगों को गिरफ्तार नहीं कर पाया. और वही अपराधी 17 दिसंबर को घटनाा को अंजाम दिया है आखिर पुलिस क्या कर रही थी.इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं थाने से कुछ ही दूरी पर सभी अपराधी की घर है उन्होंने थाने में लगे सीसीटीवी फुटेज की भी जांच कराने की मांग की है. कहा थाना अधिकतर दलालों के सहारे चला रहे हैं यह थाना प्रभारी पूर्व में भी शराब मामले को लेकर सस्पेंड किए गए थे. ऐसे भ्रष्ट थाना प्रभारी को अविलंब बर्खास्त किया जाए. इन्हें इस पद पर रहने की लाइक नहीं है वही प्रवेश कुमार प्रवीण ने कहा एक सप्ताह के अंदर पीड़ित परिवार को समुचित मुआवजा एवं थाना प्रभारी की अभिलंब बर्खास्त नहीं हुई तो आगे की रणनीति तैयार की जाएगी. सभी जनप्रतिनिधियों ने अनुमंडल कार्यालय परिसर में त्रिवेणीगंज पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की है. त्रिवेणीगंज पुलिस मुर्दाबाद – मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए अश्वनी की पत्नी वर्तमान महैशुवा पंचायत के मुखिया सहित आम लोगों की सुरक्षा की मांग की है. अब देखना दिलचस्प होगा पुलिस केे वरीय अधिकारी जनप्रतिनिधियों की मांगों को कब तक पुरी कर पाते हैं मौके पर बोधी यादव पंचायत समिति कुसाहा, वर्तमान मुखिया अबुल हसन जिला परिषद सदस्य पूनम कुमारी. सहित सैकड़ों जनप्रतिनिधि मौजूद थे.

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129