सुपौल में ईद को लेकर जिलास्तरीय शांति समिति की बैठक संपन्न,डीएम व एसपी ने भाईचारे एवं सौहार्दपूर्ण के साथ त्योहार मनाने की अपील करते हुए कई दिशा निर्देश किए जारी।

सुपौल समाहरणालय स्थित लोटन चौधरी सभागार भवन, सुपौल में आगामी ईद-उल-फितर (ईद) पर्व को लेकर जिलास्तरीय शांति समिति की बैठक जिला अधिकारी के अध्यक्षता संपन्न हुआ .बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी कौशल कुमार ने सबसे पहले रमजान पर्व की सुभकामनाएँ दी.उन्होंने कहा कि सुपौल जिले में सभी तरह के पर्व-त्योहार शांति पुर्ण भाईचारे की साथ मनाने का इतिहास रहा है। सुपौल जिले में पर्व-त्योहार में किसी भी तरह की कोई समस्या नहीं आती है और यदि छोटी-मोटी घटनाएं सामने आती है, तो इसका निदान आमजनो एवं जन-प्रतिनिधिगण के सहयोग से प्रशासन के द्वारा किया जाता है। डीएम कौशल कुमार ने कहा कि ईद का पर्व सिर्फ मुस्लिम भाई का ही नहीं बल्कि हम सभी जिले वासियों का है। जिस तरह से पूर्व में चाहे हिदू का पर्व हो या मुस्लिम का पर्व हो सभी लोग एकजुट होकर एक दूसरे को सहयोग करते आए हैं उसी तरह से हम आपलोगों से उम्मीद करते हैं कि सहयोग करते रहेंगे। बैठक में आए सभी सदस्यों ने अपने अपने विचार को प्रकट किया. बैठक में आए सभी सदस्यों ने जिलाधिकारी कौशल कुमार की आदेश का हर संभव अनुपालन कराने का भरोसा दिया। जिला अधिकारी कौशल कुमार ने साफ-सफाई एवं रौशनी की व्यवस्था के लिए कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, सुपौल/नगर पंचायत, वीरपुर एवं निर्मली/प्रखंड विकास पदाधिकारी को आदेश दिया गया। सुबह में नवाज के समय 7:00 बजे से 10:00 बजे तक हुसैन चौक से आगे बसबिट्टी रोड को वन वे करने का निदेश दिया गया। उनके द्वारा अनुमंडल पदाधिकारियों को यह निदेश दिया गया कि सभी संवेदनशील स्थानों को चिन्हित कर दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति सुनिश्चित करेंगे। किसी भी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। आवश्यकता पड़ने पर बड़ी वाहनों के प्रवेश पर रोक लगाऐंगे। जिलाधिकारी द्वारा सभी अनुमंडल पदाधिकारी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी.,प्रखंड विकास पदाधिकारी,अंचल अधिकारी/थानाध्यक्ष को निदेशित किया गया कि ईद पर्व के दिन सबसे अधिक भीड़ वाले ईदगाह स्थलो पर वे स्वंय नमाज अदा करने के समय उपस्थित रहेंगें। किसी भी तरह की समस्या आने पर उसका निदान तत्क्षण करेंगे। नव पदस्थापित सुपौल एसपी शैशव कुमार कहा ने कि इस शांति समिति के बैठक का उद्देश्य यह है कि किसी भी पर्व की तैयारी के लिए जनता एवं प्रशासन मिलकर विचार-विमर्श कर सभी आवश्यक कार्यों का निष्पादन करेंगे। उन्होंने कहा कि इस पवित्र अवसर पर जिले की सामाजिक संस्कृति को बनाए रखने में सभी लोग अपना सकारात्मक योगदान दें। शांतिपूर्ण माहौल सुनिश्चित किए जाने के लिए पुलिस प्रशासन पूरी तरह प्रतिबद्ध है. एसपी ने कहा ईद के पूर्व संध्या पर जबतक बाजार खुला रहेगा, तबतक सम्पूर्ण बाजार में गस्ती होती रहेगी। खरीदारी करने आये किसी भी व्यक्ति को किसी तरह की कोई समस्या नहीं होने दी जाएगी। एसपी ने सभी सदस्यों से अपील की गई कि आम नागरिकों के तरफ से भी सतर्कता बरती जाए एवं किसी भी प्रकार के साम्प्रदायिक संप्रदायिक ठेष की भावना को हवा न दी जाए। अफवाह फैलाने वाले पर पुलिस की पैनी नजर रहेगी .बैठक में जनप्रतिनिधि के रूप में नागेंद्र नारायण ठाकुर, अमर कुमार चौधरी, रामचंद्र यादव, राघवेंद्र झा, युगल किशोर अग्रवाल एवं राम कुमार राय सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

पप्पू आलम सुपौल

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129