PATNA AIIMS के पहले दीक्षांत समारोह में शामिल होंगी राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू , राष्ट्रपति के कार्यक्रम को लेकर पटना एम्स में नहीं चलेगा ओपीडी

PATNA : पटना एम्स में 19 अक्टूबर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू एम्स के पहले दीक्षांत समारोह में शामिल होने आ रहे हैं.इस दिन कार्यक्रम को लेकर पटना एम्स ने ऐलान किया है की ओपीडी नहीं चलेगा. हालांकि विशेष परिस्थिति में गंभीर रूप घायल मरीजों की इलाज और उपचार की व्यवस्था होगी. पटना एम्स प्रबंधन ने लोगों से आग्रह किया है कि 19 अक्टूबर को महामहिम राष्ट्रपति महोदय के आगमन को लेकर ओपीडी एवं दिखलाने सर्जरी एवं अन्य किसी भी तरह की इलाज उपचार के लिए पटना एम्स आने से परहेज करें

राष्ट्रपति एम्स पटना के प्रथम दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि होंगे

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), पटना का पहला दीक्षांत समारोह 19 अक्टूबर 2023 (गुरुवार) को आयोजित किया जाएगा. कार्यकारी निदेशक डॉ. गोपाल कृष्ण पाल ने बताया कि दीक्षांत समारोह संस्थान परिसर के सभागार में आयोजित किया जाएगा. भारत की महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू दीक्षांत समारोह की मुख्य अतिथि होंगी.माननीय राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर ,सीएम नीतीश कुमार और केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार सम्मानित अतिथि के रूप में इस अवसर मौजूद रहेंगे. दीक्षांत समारोह में संस्थान निकाय के सदस्य और बिहार तथा राज्य के बाहर के कई अन्य गणमान्य व्यक्ति जैसे आईएनआई, एम्स के निदेशक और महत्वपूर्ण चिकित्सा और केंद्रीय विश्वविद्यालयों के कुलपति भी भाग लेंगे. एमबीबीएस, बीएससी, नर्सिंग, एम.एससी. नर्सिंग, एमडी, एमएस, डीएम और एमसीएच कोर्स के कुल 244 छात्र को डिग्री मिलेगी. जिन 7 छात्रों ने एमबीबीएस और बीएससी में सर्वोच्च अंक प्राप्त किए हैं उनमे नर्सिंग पाठ्यक्रम और पीजी छात्र, जिन्होंने अंतिम परीक्षा में विशिष्ट अंक (75% अंक और अधिक) प्राप्त किए हैं, उन्हें देश के राष्ट्रपति से स्वर्ण पदक और योग्यता प्रमाण पत्र प्राप्त होगा.

कार्यक्रम शाम को 5:00 से 8:00 बजे के बीच आयोजित किया जाएगा और उसके बाद रात्रिभोज का आयोजन किया जाएगा, जो दीक्षांत समारोह में भाग लेने वाले सभी मेहमानों और छात्रों के लिए आयोजित किया जाएगा.

दीक्षांत समारोह के दिन, संस्थान के सभी संकाय और एम्स पटना अस्पताल के अधिकांश डॉक्टर कार्यक्रम में सक्रिय रूप से भाग लेंगे जिसमें शैक्षणिक जुलूस, सभागार में बैठने की व्यवस्था, दीक्षांत समारोह की व्यवस्था और अन्य रसद सहायता शामिल है. इसलिए, वरिष्ठ और कनिष्ठ दोनों स्तरों पर कई डॉक्टर सीधे रोगी प्रबंधन के लिए उपलब्ध नहीं होंगे. इसलिए एम्स पटना प्रशासन ने 19 अक्टूबर 2023 (गुरुवार) को पूरे दिन सभी ओपीडी और इलेक्टिव ओटी बंद रखने का फैसला किया है. हालांकि, जरूरतमंद मरीजों को आपातकालीन स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं प्रदान करने के लिए चिकित्सा आपातकालीन सेवाएं, ट्रॉमा और क्रिटिकल केयर सेवाएं, आईसीयू और आपातकालीन ओटी 24×7 चलेंगे. जनता को सूचित किया जाता है और अनुरोध किया जाता है कि वे 19 अक्टूबर, 2023 (गुरुवार) को ओपीडी में नियमित जांच के लिए न आएं।

पटना से मोहम्मद ग्यासउद्दीन रिंकू की रिपोर्ट 

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे
Donate Now
               
हमारे  नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट , और सभी खबरें डाउनलोड करें
डाउनलोड करें

जवाब जरूर दे 

क्या आप मानते हैं कि कुछ संगठन अपने फायदे के लिए बंद आयोजित कर देश का नुकसान करते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Back to top button
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129